Odia Medium Class 10 Hindi Chapter 1 Part 4 Rahim Das (दोहे – रहीम) Question & Answer

Sonali Ma'am

Language : Hindi

LRNR provides this material totally free

Odia Medium Class 10 Hindi Chapter 1 Part 4 Rahim Das (दोहे – रहीम) Question & Answer

दोहे – रहीम


1.   निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दो/तीन वाक्यों में दीजिए :

क. तरुवर और सरवर क्या करते हैं ?

उ : तरुवर में फल लगते हैं, जिन्हें वह खुद न खाकर दूसरों की भूख मिटाने के लिए संचय करता है | सरवर में पानी रहता है, जिसे वह खुद न पीकर दूसरों की प्यास मिटाने के लिए संचय करता है |

ख.    शिवि राजा ने क्यों मांस दान दिया ?

उ :  शिवि राजा ने एक कबूतर को उसके प्राण बचाने के लिए वचन दे दिया |  बाज पक्षी ने वहाँ पहुँच कर उसी कबूतर को माँगा और शर्त रखी कि वह कबूतर के बदले में कबूतर के वजन के बराबर राजा के शरीर का मांस ही ग्रहण कर सकेगा। इसलिए शिवि राजा ने मांस – दान दे दिया |

ग.     छोटों की अवहेलना नहीं करनी चाहिए क्यों ?

उ : समाज में हमें भिन्न - भिन्न लोगों से भिन्न - भिन्न काम लेने की आवश्यकता पड़ती है | जिस प्रकार सुई की आवश्यकता पड़ने पर वह काम तलवार नहीं कर सकती, उसी प्रकार एक सामान्य आदमी के काम की जरूरत पड़ने पर वह काम एक धनवान आदमी नहीं कर सकता | इसलिए छोटों की अवहेलना नहीं करनी चाहिए |

घ. ऋषि दधीचि ने किसलिए हाड़ या अस्ति दान दिया था ?

उ : वृत्रासुर का अत्याचार बढ़ जाने से स्वर्गलोक में हाहाकार मच गया | उसके निधन के लिए महर्षि दधीची  की अस्थियों से बननेवाले बज्र की  आवश्यकता थी | परोपकारी दधीचि ने देवताओं की रक्षा के लिए अस्थि -दान दिया |

2.   निम्नलिखित अवतरणों का आशय दो-तीन वाक्यों में स्पष्ट कीजिए :

क. तरुवर फल नहिं खात है, सरवर पिय हिं न पान |

उ : वृक्ष अपना फल नहीं खाता | तालाब अपना पानी नहीं पीता | ये परोपकारी हैं | वृक्ष के फल खाकर भूखे अपनी भूख मिटाते हैं | तालाब का पानी पीकर प्यासे अपनी प्यास मिटाते हैं | अर्थात् परोपकार एक महान कार्य है |

ख. जहाँ काम आवै सुई, कहा करै तरवारि ।

उ :  जहाँ सुई काम में आती है, वहाँ तलवार काम में नहीं आ सकती | अपने - अपने स्थान पर प्रत्येक का महत्व है | समाज में बड़े हों या छोटे, प्रत्येक की आवश्यकता पड़ती है, इसलिए छोटा समझकर किसी को अवहेलना नहीं करनी चाहिए |

ग. मांस दियो शिवि भूप ने, दिन्हीं हाड़ दधीचि |

उ : राजा शिवि ने एक कबूतर को वचन दिया कि मैं बाज से तुम्हारे प्राणों की रक्षा करूँगा | ऋषि दधीची से देवताओं ने वृत्रासुर निधन के लिए उनकी अस्थियाँ माँगीं | परोपकारी शिवि ने कबूतर की जान बचाने के लिए अपने शरीर का तथा दधीचि ने देवताओं की रक्षा करने के लिए अपने अस्थियाँ का दान दे दिया | 

3.   निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक – एक वाक्य में दीजिए :

क. तरुवर क्या नहीं खाता है ?

उ : तरुवर अपने फल नहीं खाता है |

ख. सरवर क्या नहीं पिता है ?

उ : सरवर अपना पानी नहीं पिता है |

ग. सुजान किस लिए संपती का संचय करता है ?

उ : सुजान दूसरों के ऊपर उपकार के लिए संपती का संचय करता है |

घ. बड़े लोगों को देखकर लघु का क्या नहीं करना चाहिए ?

उ : बड़े लोगों को देखकर लघु का अपमान या अवहेला नहीं करनी चाहिए |

ङ.  सुई की जगह अगर तलवार मिल जाए तो काम होगा या नहीं ?

उ : सुई की जगह अगर तलवार मिल जाए तो उससे काम नहीं हो सकेगा |

च. परोपकार करते समय क्या जरूरी नहीं है ?

उ : परोपकार करते समय परिचय या मित्रता को ध्यान देना जरूरी नहीं है |

छ. शिवि भूप ने क्या दान दिया था ?

उ : शिवि धूप ने अपने शरीर का दान दिया था |

ज. किसने अपनी हड्डियों का दान दिया था ?

उ : दधीचि ने अपनी हड्डियों  का दान दिया था |


भाषा – ज्ञान

1.   नीचे लिखे शब्दों के खड़ीबोली – रूप लिखिए :

शब्द -  खड़ीबोली – रूप

नहि -    नहीं

सरवर –  सरोवर

पिय –   पिता है

पान –    पानी

तलवारी – तलवार

काज – काम


2.   निम्नलिखित शब्दों के विपरीत शब्द लिखिए :

शब्द – विपरीत शब्द

पर – निज

हित – अहित

सुजान – अनजान

बड़ा – छोटा

लघु – गुरु

उपकार – अपकार


3.   निम्नलिखित शब्दों के समानार्थक शब्द लिखिए :

शब्द समानार्थक शब्द

सरबर -   तालाब

तरु - वृक्ष – पेड़

पान - जल पानी

संपती -   जायदाद

सुजान – सज्जन

लघु -   छोटा

तलवार -  खड़ग

राजा - भूपति

मित्रता -  दोस्ती

अस्थि -   हड्डी 


4.   निम्नलिखित शब्दों के लिंग निर्णय कीजिए :

फल – पुलिंग

संपाती – स्त्रीलिंग

सुई – स्त्रीलिंग

तलवार – स्त्रीलिंग

मांस – पुलिंग


5.   ‘को’ परसर्ग का प्रयोग करके पांच वाक्य बनाइए जैसे राम को किताब दो |

क.    राजा शिवि ने कबूतर को वचन दिया |

ख.    बड़े को देखकर लघु को न डाल दो |

ग.     उस को कलम दो |

घ.     भिखारी को भीख दो |

ङ.      राम को बुलाओ |

Ratings
No reviews yet, be the first one to review the product.